नील पट्टीकेँ क्लीक कए कs ब्लॉगक सदस्य बनल जाउ

जय मिथिला जय मैथिली

रचना मात्र मैथिलीमे आ स्वम् लिखित होबाक चाही। जँ कोनो अन्य रचनाकारक मैथिली रचना प्रकाशित करए चाहै छी तँ मूल रचनाकारक नाम आ अनुमति अवश्य होबाक चाही। बादमे कोनो तरहक बिबाद लेल ई ब्लॉग जिमेदार नहि होएत। बस अहाँकें jnjmanu@gmail.com पर एकटा मेल करैकेँ अछि। हम अहाँकेँ अहाँक ब्लॉग पर लेखककेँ रूपमे आमन्त्रित कए देब। अहाँ मेल स्वीकार कएला बाद अपन, कविता, गीत, गजल, कथा, विहनि कथा, आलेख, निबन्ध, समाचार, यात्रासंस्मरण, मुक्तक, छन्दबद्ध रचना, चित्रकारी आदि अपन हाथे स्वं प्रकाशित करए लागब।

रविवार, 13 मई 2012

कोना मदर डे हैप्पी ?


आब केहन जमाना आबि गेल
बर्खमे एक्के दिन
मएकेँ  यादि करै छी,
मदर डेकेँ  नाम पर
मएकेँ  याद  करै छी
की हुनक सुखएल घाकेँ 
काठी कए  कs जगाबै छी |

हम बिसैर गेलहुँ
अपन मएकेँ 
मुदा ओ नहि बिसरली,
जाहिखन हुनका भेटलनि 
सुन्दर कार्ड 'हैप्पी मदर डे' लिखल
भेलनि  करेजा तार-तार
नोर टघैर कs
अपन स्पर्शसँ
गालकेँ  छुबैत
हुनक करेजा तक चलि गेल
आ करेजामे बंद
महामएकेँ  कोंढ़सँ
सोनितमे डुबल शव्द निकलल
आह!
की ई हमर ओहे लाल ?
जेकरा पोसलहुँ खूनसँ
पाललहुँ  अपन दूधसँ
अपने सुतलहुँ भिजलमे
ओकरा  लगेलहुँ करेजसँ |
आई
चारि बर्खसँ भेटल नहि
रहि रहल अछि परदेश
अपन  कनियाँ सँग
बिसरि गेल बिधवा मएकेँ 
आई अकस्मात मए  यादि  एलैह
ई सुन्दर चिट्ठी (कार्ड) पठेलक
मुदा की लिखल ?
'हैप्पी मदर डे'
नमहर साँस  लैत
हुनक मन आगु बाजल
जखन मदरे नहि हैप्पी
तँ   कोना
मदर डे हैप्पी
तँ   कोना मदर डे हैप्पी ?
*****

जगदानन्द झा 'मनु'

1 टिप्पणी:

  1. अंग्रेजीक बढ़ैत बर्चस्व समस्त भारतीय भाषा कें ठेठुआ देखा रहल अछि. मैथिली सेहो अहि राष्ट्रीय प्रतारणा के शिकार भय गेल अछि .

    जवाब देंहटाएं